133 साल की हुई कांग्रेस

0

भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस को आज 133 साल हो गए हैं। 28 दिसंबर 1885 को कांग्रेस की स्थापना हुई थी। देश की सबसे पुरानी पार्टी ने भारत को अब तक 7 प्रधानमंत्री दिए हैं। फिलहाल, राहुल गांधी के नेतृत्व में कांग्रेस आगे बढ़ रही है। इस बार कांग्रेस के लिए स्थापना दिवस काफी खास है क्योंकि हाल ही में पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों में कांग्रेस ने जीत हासिल की है। पार्टी ने गुलामी से लेकर अब तक एक लंबा सफर तय किया है। आइए जानते हैं कांग्रेस के अनचाहे पहलुओं को…

 

कांग्रेस की स्थापना

कांग्रेस पार्टी की स्थापना 72 प्रतिनिधियों की उपस्थिति के साथ 28 दिसंबर 1885 को बॉम्बे के गोकुलदास तेजपाल संस्कृत महाविद्यालय में हुई थी। इसके संस्थापक महासचिव एओ ह्यूम थे, जिन्होंने कोलकाता के व्योमेशचंद्र बनर्जी को अध्यक्ष नियुक्त किया था। पार्टी का दूसरा सेशन एक साल बाद 1886 को कोलकाता में दादाभाई नौरोजी की अध्यक्षता में हुआ था। अपने शुरुआती दिनों में कांग्रेस का दृष्टिकोण एक कुलीन वर्ग की संस्था का था।

 

कांग्रेस के दो दल बने

1907 में कांग्रेस के दो दल बन गए – गरम दल और नरम दल। गरम दल का नेतृत्व बाल गंगाधर तिलक, लाला लाजपत राय और बिपिनचंद्र पाल कर रहे थे। कांग्रेस में स्वराज का लक्ष्य सबसे पहले बाल गंगाधर तिलक ने अपनाया था। वहीं नरम दल का नेतृत्व गोपालकृष्ण गोखले, फिरोजशाह मेहता और दादाभाई नौरोजी कर रहे थे। प्रथम विश्व युद्ध के छिड़ने के बाद 1916 की लखनऊ बैठक में दोनों दल फिर एक हो गए और होमरूल आंदोलन की शुरुआत हुई।

कांग्रेस के अब के अध्यक्षों पर नज़र

 

  • व्योमेशचंद्र बनर्जी
  • दादाभाई नौरोजी
  • बदरुद्दीन तैयबजी
  • जॉर्ज यूल
  • विलियम वेडरबर्न
  • फिरोज़शाह मेहता
  • आनंद चाल्लू
  • व्योमेशचंद्र बनर्जी
  • अल्फ्रेड वेब
  • सुरेंद्रनाथ बनर्जी
  • रहिमतुल्ला सायानी
  • सी.शंकरन नायर
  • आनंदमोहन बोस
  • रमेशचंद्र दत्त
  • नारायण गणेश चंदावरकर
  • दिनशा वाचा
  • सुरेंद्रनाथ बनर्जी
  • लालमोहन घोष
  • हेनरी कॉटन
  • गोपालकृष्ण गोखले
  • रासबिहारी घोष
  • मदनमोहन मालवीय
  • विलियम वेडरबर्न
  • बिशन नारायण दर
  • रघुनाथ नरसिंह मुधोलकर
  • नवाब सैयद मुहम्मद बहादुर
  • भूपेंद्रनाथ बोस
  • सत्येंद्र प्रसन्न सिन्हा
  • अंबिका चरण मजूमदार
  • एनीबेसेंट

  • सैयद हसन इमाम
  • मोतीलाल नेहरू

  • लाला लाजपत राय
  • विजयराघवाचार्य
  • चित्तरंजनदास
  • मोहम्मद अली जौहर
  • अबुल कलाम आज़ाद
  • महात्मा गांधी
  • सरोजिनी नायडू
  • एस श्रीनिवास आयंगर
  • मुख्तार अहमद अंसारी
  • जवाहरलाल नेहरू
  • वल्लभभाई पटेल
  • नेली सेनगुप्त
  • राजेंद्र प्रसाद
  • सुभाषचंद्र बोस
  • आचार्य कृपलानी
  • पट्टाभि सीतारमैया
  • पुरुषोत्तमदास टंडन
  • उच्छंगराय नवलशंकद ढेबर
  • इंदिरा गांधी

  • नीलम संजीवा रेड्डी
  • के.कामराज
  • एस.निजलिंगप्पा
  • जगजीवन राम
  • शंकरदयाल शर्मा
  • देवकांत बरुआ
  • राजीव गांधी
  • पीवी नरसिम्हा राव
  • सीताराम केसरी
  • सोनिया गांधी
  • राहुल गांधी

कांग्रेस के अब तक के प्रधानमंत्री…

– जवाहरलाल नेहरू, 1947-64, 17 साल

– गुलज़ारीलाल नन्दा, मई-जून 1964, 26 दिन

– लालबहादुर शास्त्री, 1964-66, 2 साल

– इंदिरा गांधी, 1966-77, 1980-84, 16 साल

– राजीव गांधी, 1984-89, 5 साल

– पीवी नरसिम्हा राव, 1991-96, 5 साल

– मनमोहनसिंह, 2004-14, 10 साल

https://upload.wikimedia.org/wikipedia/commons/0/0d/IBSA-leaders_Manmohan_Singh.jpg

कांग्रेस हटाओ आंदोलन

राममनोहर लोहिया ने लोगों को आगाह किया कि देश की हालत सुधारने में कांग्रेस विफल रही है। कांग्रेस नए समाज की रचना में सबसे बड़ा रोड़ा है इसलिए लोहिया ने नारा दिया कि कांग्रेस हटाओ, देश बचाओ। 1976 के आम चुनाव में देश में एक बड़ा परिवर्तन हुआ। देश के 9 राज्यों में गैर कांग्रेसी सरकारेन गठित हो गई। लोहिया इस परिवर्तन के सूत्रधार बने।

1974 में जयप्रकाश नारायण ने इंदिरा गांधी को सत्ता को बाहर करने के लिए सम्पूर्ण क्रांति का नारा दिया। इससे निपटने के लिए इंदिरा गांधी ने देश में इमरजेंसी लगा दी। इसका आम जनता में जमकर विरोध हुआ और जनता पार्टी की स्थापना हुई। वर्ष 1977 में कांग्रेस बुरी तरह हार गई। मोरारजी देसाई के नेतृत्व में जनता पार्टी की सरकार बनी, परंतु चौधरी चरण सिंह की महत्वाकांक्षा के चलते सरकार ज्यादा दिनों तक नहीं चली। 2014 के लोकसभा चुनाव में नरेंद्र मोदी ने कांग्रेसमुक्त का नारा दिया, जो काफी प्रभावी रहा। चुनाव में कांग्रेस मात्र 44 सीटों पर आकर सिमट गई।

बीएसएफ स्थापना दिवस : जिनके कारण सुरक्षित हैं हम

‘आप’ के स्थापना दिवस पर बरसे केजरीवाल

धूमधाम से मनाया मध्यप्रदेश स्थापना दिवस, इन्होंने दिए खास संदेश

रहें हर खबर से अपडेट, ‘टैलेंटेड इंडिया’ के साथ| आपको यहां मिलेंगी सभी विषयों की खबरें, सबसे पहले| अपने मोबाइल पर खबरें पाने के लिए आज ही डाउनलोड करें Download Hindi News App और रहें अपडेट| ‘टैलेंटेड इंडिया’ की ख़बरों को फेसबुक पर पाने के लिए पेज लाइक करें – Talented India News

Share.